Sad Shayari _mere is dare ki Sava rum ho in hindi l - Shayari Ka Khajana

Sad Shayari _mere is dare ki Sava rum ho in hindi l



मेरे इस दर्द की वजह भी तुम हों,
और मेरे इस दर्द की दवा भी तुम हों,
वो नमक जख्मो पें लगाते हैं तो क्या, 
मोहोब्ब्त करने की वजह भी तों तुम हों.





मुजे कबुल हैं हर दर्द हर तकलीफ तेरी चाहत मैं,
सीर्फ ईतना बता दे, क्या तुजे भी मेरी मोहोब्ब्त कबुल हैं ?





प्यार सभी को जीना सीखा देता है,
वफा के नाम पर मरना सीखा देता है,
प्यार नहीं किया तो करके देखलो यारों,
जालीम हर दर्द सहना सीखा देता है.



Sad Shayari _mere is dare ki Sava rum ho in hindi l Sad Shayari _mere is dare ki Sava rum ho in hindi l Reviewed by Admin on Wednesday, August 16, 2017 Rating: 5

No comments:

1. आपको हमारी ये वेबसाइट कैसी लगी इसका प्रतिसाद जरुर दे..
2. बेस्ट शायरी के लिए यहाँ comments करे .....

Powered by Blogger.