{TOP} Dard bhari shayari - दिल से निकली दर्द भरी शायरी - shayari ka khajana - Shayari Ka Khajana

{TOP} Dard bhari shayari - दिल से निकली दर्द भरी शायरी - shayari ka khajana

image-duaa shayari
Image-tutata huaa tara-shayari ka khajana


टूटता हुआ तारा सबकी दुआ पूरी करता हैं,
क्यों के उसे टूटने का दर्द मालूम होता हैं...


क्यों कभी किसी के काबिल न हो सका 
खुसी में खुद अपनी शामिल न हो सका
वो दाखिल होता गया मुझ में हर दफा
में अपनी ही दिल में दाखिल न हो सका..



कसम से सब्र की इन्तहा हो चली है 
दर्द ऐ दिल कहना हैं अब मुस्किल 
और ये आँखे वीरान हो चली हैं...

कब तक करेंगे इंतजार अब तो जान भी जाने लगी
मह पे तरस खाके अब तो मौत भी पास आने लगी..

खामोश लबो पर भी राज़ कुच गहरे होते हैं
मुस्कराहट के पीछे भी जखम गेहरे होते हैं...

{TOP} Dard bhari shayari - दिल से निकली दर्द भरी शायरी - shayari ka khajana {TOP} Dard bhari shayari - दिल से निकली दर्द भरी शायरी - shayari ka khajana Reviewed by Admin on Monday, October 16, 2017 Rating: 5

No comments:

1. आपको हमारी ये वेबसाइट कैसी लगी इसका प्रतिसाद जरुर दे..
2. बेस्ट शायरी के लिए यहाँ comments करे .....

Powered by Blogger.