100+ बहारे महेफिल की जामभरी शायरी || Top-100+ Bahare Mahefil Ki Jambhari Hindi Shayari - Shayari Ka Khajana

100+ बहारे महेफिल की जामभरी शायरी || Top-100+ Bahare Mahefil Ki Jambhari Hindi Shayari

💖Dard Bhari Hindi Shayari for Shayarikakhajana💙


सर उठा कर जीते थे हम,
अब सर झुका कर चलना पडता है,
कभी जीते थे हम सनम के नाम पर,
आज इनके नाम पे मरना पडता है.

💖 Sad Shayari In Hindi 💔
हुश्न वालो से कोई गिला नही,
इनकी फितरत तो बेवफाई है,
कोई वफा करे या नकरे यारो,
इनकी आदत तो बेवफाई की हैं.

💖 Tanhai Shayari 💖
दिल तन्हाई में जलते रहे तन्हा-तन्हा ,
दो दीवाने हर रात मिलते रहे तन्हा-तन्हा,
चाँद सितारों के सिवा किसी को खबर नहीं,
कहानी प्यार की जो लिखते रहे तन्हा-तन्हा.

💖 Bewafa Shayari 💖

रंग चाहतो में रोज बदलता रहा,
कदम कदम वह मुझे छलता रहा,
वादे पर न आता, में समज लेता बेवफा,
मगर वो तो हर शाम मुझसे मिलती रही.
💖 Yaad Shayari 💖

जख्म तन्हाई में फूलो से महकते रहे,
हम उनकी खुश्बू में जीते मरते रहे,
उसने भुला दिया सब कस्मो के बावजुद,
मगर हम अकसर उन्हें याद करते रहे.

💖 Sad SMS Hindi 💖

ऐ मेरी जाने वफ़ा,जाने गजल, जाने जिगर,
आज SMS आया तेरा तो मिली तेरी खबर,
तूने लिखा है की दिल मेरे बिन लगता नही,
बगैर मेरे सुना हो गया तेरा मन.

💖 Mahobbat bhari Shayari 💖
दूर दुनिया सा नया आशियाना बनाना है,
महोब्बत के कदमो पे जहा को झुकाना है,
जीना है तो सर उठाकर जिओ सनम,
प्यार का दुश्मन तो जमाना सदा से है.

💖💖
तुम तो उसी दिन से भा गई हो मुझे.
मैंने देखा था तुम्हे जब पहेले पहेले,
आज तक भुला नही दिल पहला दीदार,
आज भी लगते  हो तुम जैसे थे पहेले-पहेले.

💖💖
दीवाने गम से गभाराया नहीं करते,
शिकवा लबो पे लाया नहीं करते,
मर जाते है, मिट जाते है हंस हंस कर,
प्यार करने वाले दमन बचाया नही करते.

✡️100 बहारे महेफिल की जामभरी शायरी✡️


दिल के जख्मो को फिर वो हवा दे गया,
रात दिन तड़पने की वो मुझे सजा दे गया,
उम्रभर साथ निभानेकी कस्मे वादे कर के,
अकेले जीने मरने को यादो के सहारे छोड़ गया.

💖💖
तेरे प्यारने लिये इम्तेहान बेशुमार,
लगे हम पर बार बार इल्जाम बेशुमार,
कोई आशिक, कोई दिवानो, कोई शायर कहे,
तेरी चाहत में मिले मुझे नाम बेशुमार.

💖💖
मेरे  सनमने ही मुझको बरबाद किया,
दिल शाद था मेरा मगर नाशाद किया है,
दुनिया कहेती है की मैं उसे भूल जाऊ,
जिसने दिल मेरा यादो से आबाद किया है.

💖💖
घर क्या जिंदगी उजाड़ दी है तुमने मेरी,
ना शिकन माथे पर, तुम्हारे अफसोस की लकीर,
तुज्को अहेसास नही क्या अपनी बेवफाई का,
ख्वाब मुझे दिखाये, बनी किसी गैर की.

💖💖
तूने कितने ख्वाब सजाये थे मेरी आँखों में,
और बार-बार प्यार से गले लगाया था,
मेरी सुनी रातो को महेकाया गुलाब की तरह,
आज तक उतारा नही वह नशा पिलाया था तूने प्यार का.

💖💖
अपना अपना नशीब है शिकायत क्या करे ?
अफसाना अब ख़त्म हुआ, तेरी चर्चा क्या करे,
तु मुझे मिल न सकी मेरी दुआओं के बावजुद,
किसीको बिना मांगे मिली, अब कोई दुआ क्या करे ?

💖💖
वह प्यार जो कभी हम दोनों में हुआ था,
तरसता है शमा को, उन हसरतो का माजर,
उन फिजोसे आती है आज भी खुश्बू,
आज भी हर फुल को तेरा ही इन्तेजर है.

💖💖
क्यों दिल से तेरी याद नही जाती ?
क्यों रात दिन तेरा प्यार रुलाता है ?
यह तदप मेरे खुदा क्यों कम नही होती ?
क्यों रह रह कर उसका ख्याल सताता है ?

💖💖
जिंदगी तुम्हारे पहेलु में काश गुजर जाती,
मेरी आरझुओ की दुनिया संवर जाती,
जिंदगी की हर उलजन सुलझ जाती अगर,
तुम्हारी जुल्फे मेरे चहेरे पर बिखर जाती.

💖💖
तुम्हारी यादो को जीने का सहारा बना लिया,
तुम्हारे प्यार को जवन का किनारा बना लिया,
तुम्हारी जुदाई में जिनते आँखों से गिरे थे,
उस हर ऐक आंसु को सितारा बना लिया.

💘💘
मैं उम्र भर जिसके लीऐ भटकता रहा,
वह भी याद मुझे तन्हाई में करते रहे,
उसकी आँखों की कसक गवाही दे गई,
की वः भी मेरी तरह रोते सिसकते रहे.

💘💘
सब किस्मत के खेल है सनम,
ना तुम्हारी खता, न हमसे खता हुई,
किस्मत में लिखा मंजुर यही था,
कुछ सजा तुम्हे, बाकी हमको मिली.

💘💘
मेरीमौत उनके लिए दुआ हो गई,
मेरी महोब्बत आज बददुआ हो गई,
इस कदर वो दामन बचाती है मुजसे,
जैसे आज मेरी नजर बेवफा हो गई.

💘💘
देखकर तड़प तुम्हारे दिल की साजन,
दिल हमारा भी खून के आंसू रोता है,
जब बहेते है अश्क की धारे आपकी नजरो से,
दिल हमारा भी खून के आंसू रोता है.

💘💘
बदल न सके हम सनम जब किस्मत अपनी,
क्या खाक बदल सकेंगे तकदीर किसी की ?
जिसकी जिंदगी आज वीरान हो गई,
वो क्या खाक बसायेगे जन्नत किसी की ?

💘💘
इस कदर बरसती है आज आँख मेरी,
क्या बरसी होगी टूट कर घटा सावन की,
इस राह पे गुजर ते गुजर चुके है,
जहा कभी बरसती थी फुहारे सावन की.

💘💘
आज जब बेरहम मेरी तकदीर हो गई,
उन्होंने भी शीश-ऐ-दिल में तस्वीर बदल डाली,
कभी जो दम भरते थे मेरी वफा का,
उन्होंने ही आज मेरी किस्मत बदल डाली.

#Top-100 Bahare Mahefil Ki Jambhari Hindi Shayari


तिल तिल कर जले है तेरे प्यार में हम,
मगर बेवफा के नाम से मशहूर हुए,
दर्द जुदाई का सहते हुए भी सनम,
आज आपकी नजर में हम मगरुद हुए.

💘💘

सुना है उनकी भी कुछ मजबुरिया है,
इसलिये आज वो दुश्मनी पे उतर आये है,
दिल के बदले दर्द दिलका देकर सजन,
आज उन्होंने हमपे बेपनाह सितम ढाऐ है.

💘💘
आपने ही दिखाया था सपना इन आँखों को,
सजन, आपने ही इस सपने को तोड़ दिया,
हसरत जगाकर प्यार की साजन दिलमे,
आज आपने अपना प्यार थूकरा दिया.
💘💝

इस सारे जहान में कोई न था तुम्हारे सिवा,
तुम्हे जिंदगी से बढकर हमने प्यार किया था,
अपनी जिंदगी में ज्यादा चाहा हमने तुम्हे,
खुदा से बढकर हमने तुमपे ऐतबार किया था.
💘💝

तन्हाई में किसी बिछड़े यार की याद,
दिल में दर्द और होंठो पर फरियाद 
सब कुछ गवा कर क्या पाया हमने ,
की हम नाशाद हुए, रहा तेरा दिलशाद.
💘💘

काश की हम यह काम कर जाते,
मरने से पहले तुम्हे बदनाम कर जाते,
मगर हमारे जमीर ने यह गवारा न किया,
वर्ना पैदा तुम्हारी जिंदगी में तूफान होता.
💝💝

अपनो ने लुटा है प्यार मेरा,
क्या गिला करे हम चोरी का,
नजर मिलाकर लुट लिया,
क्या हाल कहे उसे अपना.
💘💘

हम अंजान थे प्यार महोब्बत से,
धड़कन में प्यार बसाया उसने,
हम अंजान थे प्यार महोब्बत से,
प्यार क्या है ये सिखाया उसने.
☆☆

उन्हों ने हमे बर्बाद किया,
हमारी बरबादी पे वो जश्न मनाते है,
हमे है उनसे प्यार ऐ खुदा,
वो जख्मी दिल पे छुरी चलाते है.
🔯🔯

अश्को से आग बुझाई नही जाती,
हमसे उनकी याद भुलाई नही जाती,
वो तो चले गये हमे छोड़कर,
हमसे उनकी यादे भुलाई नही जाती.
🔯🔯

बस इतनी आरजू अमरी है,
आपकी महेफिल आबाद कर जाये,
आपने हमें भले बरबाद किया,
हम आपकी महेफिल आबाद कर जायेंगे.
☆☆

क्या गिला करे उनकी बेवफाई का,
जब बेवफाई करने की उनकी फितरत है,
✡️✡️

यु बजाये चिराग मेरे दिल के,
मुझे भी सिसकिय लेकर शमा दिल की बुझानी पड़ी,
तुम्हारी एक ख़ुशी के लिए साजन,
मुझे ज़माने की हर ख़ुशी ठुकरानी पड़ी.
💖💖

एक जिन्दा लाश खडी है आपके सामने,
हर आरझू मिट गई,जुदाई के साथ,
कुछ हाल अपना भी बता दो हमें,
हमारी हर हसरत जल गई जुदाई के साथ.
💔💔

मैंने छ फेरे तक इंतेजार किया,
सातवे फेरे में पराई हो गई,
रुसवा हो गई महोब्बत तुम्हारी,
हर ख़ुशी मेरी हो गई पराई.
💖💖

जब भी बात चली है चाहत की,
अश्को की सौगात हमने पाई  है,
खून हुए है मेरे अरमानो का,
बस अपनी चाहत की अर्थी उठाई है.
💗💗

टूट कर बिखर गए, पत्तो की तरह,
वो हमें छोड़ गए, बेगानों की तरह,
हम दुआ करते रहे, उनकी सलामती की,
वो हमें बददुआ दे गए, बेगानों की तरह.

💘💘

भूल कर भी भुला न पायेंगे,
हम चंद घडियो के प्यार को,
रिश्ता आपसे कुछ भी नही,
हम फिर भी याद करेंगे आपको.
💘💘

जिंदगी मेरी आंसुओ में ढलने लगी,
मौत दरवाजे पे दस्तक देने लगी,
मेरे यारो कोई जलन अब न करो,
जिंदगी अब अपने हाथो से निकलने लगी.
💖💘

सितारों में चाँद तन्हा जगमगाता है,
आदमी अकेला भी मंजिल पाता है,
गम से न गभराना ऐ मेरे हमसफ़र,
गुलाब काँटों के बिच भी मुस्कुराता है.
💘💖

शीश-ऐ-दिल पल में चकनाचूर हुआ,
जन से प्यारी सनम आँखों से दूर हुई,
तुझे भुला तो देता मगर ऐ सनम बेवफा,
में अपनी वफाओ के आगे मजबूर हुआ.
💝💝

नसीब अगर तुम्हारे साथ हो जाता,
तो सारा जमाना मेरे साथ हो जाता,
तुम अगर हमराह मेरे घरसे निकलते,
कोई हादसा कही बिना बात हो जाता.
जिंदगी कदम-कदम पर उलजाती गई,
बेवजह मुज पर उंगली उठाई गई,
मै सब्र करता रहा, तू सितम करती रही,
और इस पर भी हंसी मेरी ही उड़ाई गई.

आदमी प्यार करके इन्सान बना करता है,
वफ़ा पर मिटने वाला भगवान बना करता है,
जिसके प्यार में गंध होती है वासना की,
वह शख्स इक दिन शैतान बना करता है.

दिल की आरजू ये कभी दबाई न गई,
हसरते अपनी यारो मिटाई न गई,
उन्हों ने सरे बजम पूछा हाल हमारा,
मगर दोस्तों दर्द दिल सुनाया न गया.

टूट गया दिल तो क्या हुआ दोस्तों,
दुनिया में यहाँ नया हादसा नही है,
मिटाने वाला बहुत है जहा में ,
अफसोस बसाता आशिया कोई नही है.

हाथ उठाए थे हमने दुआ के लिए,
खून बहा दिया तेरी रँगे हिना के लिए,
दिल तुजसे लगाया तो मालूम हमें हुआ,
प्यार होता है तडपने की सजा के लिए.

क्या - क्या न सहा मेने तेरे प्यार में,
अपनी हस्ती मिटदी तेरे इन्तेजार में,
तेरे बगैर सूरज सा तपता है मेरा दिल,
वैसे चांदनी की ठंडक है तेरे दीदार में.

अपने हाथो ये भी गुनाह करना पड़ा,
की खुद अपने आपको तबाह करना पड़ा,
उसकी खुसी के लिए मेरे दोस्तों,
मेरे सभी आदर्शो को जलाना पड़ा.

मिटकर भी प्यार की रित निभादी,
आ देख मेने अपनी हस्ती मिटा दी,
तू मेरु वफ़ा का भरम रख न शकी,
और मैंने तेरी जफाये तमाम भुलादी.

तेरा ख्याल तेरी आरजू न गई,
मेरे दिल से तेरी जुस्तजू न गई,
इश्कमें सब कुछ लुटा दिया हंस कर,
मगर तेरे प्यार की आबरू न गई,

तुम जिंदगीमें चले आये बहार बनकर,
उदास तन्हाई में पायल की जन्कार बनकर,
दुनियासे किनारा कर तन्हा जी रहा था,
तुम चले आओ अचानक प्यार बनकर.



100+ बहारे महेफिल की जामभरी शायरी || Top-100+ Bahare Mahefil Ki Jambhari Hindi Shayari 100+ बहारे महेफिल की जामभरी शायरी || Top-100+ Bahare Mahefil Ki Jambhari Hindi Shayari Reviewed by Admin on Sunday, October 13, 2019 Rating: 5

No comments:

1. आपको हमारी ये वेबसाइट कैसी लगी इसका प्रतिसाद जरुर दे..
2. बेस्ट शायरी के लिए यहाँ comments करे .....

Powered by Blogger.